दुनिया की सबसे ताकवर सब्जी मानी जाती है यह जंगली सब्जी, औषधीय गुणों से है भरपूर, फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान

 निशा राठौड़/ उदयपुर. मानसून के मौसम में हमें चिंता रहती है कि कौन-सी सब्जी खाएं और कौन-सी नहीं.यहां हम आपको बताने जा रहे हैं ऐसी सब्जी के बारे में जिसे लोग ‘मीठा करेला’ भी कहते हैं. इसे दुनिया की ताकतवर सब्जी भी माना जाता है. औषधीय गुणों से भरपूर यह सब्जी बारिश के दिनों में ज्यादा खाई जाती है. आप इसके फायदे जानकर हैरान रह जाएंगे. बाजार में इन दिनों मानसून में मिलने वाली किकोड़ा या कर्कोट सब्जी की मांग बनी हुई है. इन दिनो यह सब्जी 200 रुपए किलो बिक रही है फिर भी इसे लोग खरीदना पसंद करते है.

बाजार में 200 रुपए किलो बिक रहा जंगली किकोड़ा
औषधीय जड़ी-बूटियों और वनोपज से सम्पन्न उदयपुर शहर में आसपास के जंगलों में इन दिनों किकोड़ा की बहार है. बाजार में जंगली किकोड़ा 200 रुपए प्रति किलो बिक रहा है. दुकानदार इसे आदिवासियों से 150 रुपए किलो खरीदते हैं. फिर बाजार में ठेला लगाकर 200 रुपए प्रति किलो की दर से बेचते हैं. यह इसी सीजन में सिर्फ 15 दिन मिलता है, इसलिए मंहगा होने के बावजूद हर कोई इसका स्वाद लेना चाहता है. यहीं वजह है कि ठेला लगाने के कुछ घंटे में ही पूरा किकोड़ा बिक जाता है.

कई बीमारियों को रखता है दूर
आयुर्वेद चिकित्सक वैध शोभालल ओदिच्य ने बताया कि ककोड़ा रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते हैं. इसमें मौजूद फाइटोकेमिकल्स हेल्थ को ठीक रखते हैं. यह एंटीआक्सीडेंट से भरपूर होती है. इसमें ल्युटेन जैसे केरोटोनोइड्स नेत्र रोग, हृदय रोग और यहां तक कि कैंसर की रोकथाम में सहायक है. अगर आप इसकी सब्जी नहीं खाना चाहते तो इसका अचार भी बनाकर रख सकते हैं. यह काफी पाचक भी होता है.

कद्दूवर्गीय फसल है किकोड़ा
कृषि वैज्ञानिकों के अनुसार किकोड़ एक कद्दूवर्गीय फसल है. यह पौष्टिक गुणों से भरपूर होने के साथ-साथ विभिन्न बीमारियों की रोकथाम में सहायक होता है. इसकी खेती कर किसान समृद्ध बन सकते हैं. उद्यानिकी विभाग ने किसानों से इसकी खेती करने की अपील की है. पन्ना के जंगली क्षेत्रों में किकोड़ा बिना उगाए उगता है, इसलिए आदिवासी इसे तोड़कर बाजार में बेचते हैं. आस-पास के लोग इसको सब्जी के रूप में जमकर इस्तेमाल करते हैं.

.

FIRST PUBLISHED : July 11, 2023, 13:55 IST

https://images.news18.com/ibnkhabar/uploads/2023/07/3190597_HYP_0_FEATURE20230711_115158_0000-168906259716×9.png